• 352
    0

    तुम पतझड़ में उजड़े हुए बाग की तरफ देखते ही क्यों हो….! खिले हुए चमन को देखो ना तुम ठहरे हुए तालाब के पानी को देखते ...
  • 291
    0

    शादी के 5 साल बाद भी बिरहा मां नहीं बन पाई बस इसी बात की चिंता उसे खाए जा रही है। सासू मां अक्सर उसे इस ...
  • 304
    4

    अब बदल गया जमाना है यहाँ हर कोई दौलत का दीवाना है इंसा का ईमान है दौलत दौलत ही भगवान है दौलत से आंकी जाती है ...
  • 288
    0

    साहिल सुबह उठकर न्यूजपेपर पढ़ने बैठ गए!अनामि चुपचाप उनके टेबिल पर चाय रखकर चली गई! “सराहा,शीर्ष नाश्ता नहीं करना क्या?ये आजकल के बच्चे भी न,पूरे समय ...
  • 570
    2

    हम उन्हें बुराई का बदला अच्छाई से देते रहे उनकी हर नफरत का जबाब प्यार से देते रहे क्योंकि हम जानते हैं कि बुराई को अच्छाई ...
  • 338
    0

    डियर विभोर आप कैसे हैं? इन दो सालों में आपने मेरे साथ जो किया है उससे तो मैं अनुमान लगा सकती हूं कि आप मुझसे दूर ...
  • 442
    2

    शक खड़ी कर देता है इंसानों के बीच नफरत की एक दीवार शक बड़ा देता है रिश्तों में दूरियां शक पैदा कर देता है संबंधों में ...
  • 327
    0

    आज मेरे टीचर ने स्कूल में सबके सामने मुझे जलील किया सिर्फ इसलिए कि छः महीने से मेरी स्कूल फीस जमा नहीं हो पाई थी।बहुत आहत ...
  • 367
    3

    क्लीन स्लीप के हैं कई फायदे!क्लीन स्लीप में कम से कम आठ या दस घंटे की नींद लेना जरूरी होती है!इसमें स्लीप हाइजीन का ध्यान रखना ...
  • 439
    0

    जो कुछ तुम्हें मिला है क्यों उससे संतुष्ट नहीं हो तुम…! जो नहीं मिला क्यों उसे पाना चाहते हो…! जो कभी नहीं मिल सकता क्यों उसके ...