• 4678
    32

    आज मंगनी के दिन पहली बार ही उदया ने अलख को देखा था!बिल्कुल वैसा ही,जैसे उसने सपने में किसी राजकुमार की कल्पना की थी।और जब बहू ...
  • 2671
    37

    एक छोटे से दुख से हार मानकर तुम जिंदगी जीना छोड़ दोगे- – -? थोड़ा सा कुछ खोने पर कितनी शिकायत है तुम्हें जिंदगी से उन ...
  • 2591
    25

    अभिना तो बस अपनी सपनों की दुनियाँ में खोई हुई है।उसकी नजरों में ‘कोर्टशिप पीरियड’का मतलब है सिर्फ मौज-मस्ती। पर निकित! वह अपनी आने वाली जिंदगी ...
  • 1406
    8

    मम्मा बचाओ….मम्मा बचाओ….अरे, यह तो रिदम की आवाज है,अंशुमी किचिन का काम छोड़कर बाहर की ओर भागी। रिदम….रिदम…कहां हो तुम,चिल्लाते हुए वह मेनगेट की तरफ आगे ...
  • 3420
    30

    आज बड़ी उदास लग रही हो?आफिस से आकर सोफे पर बैठते हुए आत्मिक ने समीहा को टोका। “मेरे साथ कितना बड़ा धोखा हुआ है”समीहा ने रोते ...
  • 4553
    92

    वक्त अपनी रफ्तार से चल रहा है तुम चलो न चलो पर तुम्हें रुकना नहीं है जीवन पथ पर निरंतर आगे बढ़ते जाना है वक्त के ...
  • 3544
    72

    हमारे देश में पॉलीथीन का उपयोग बहुतायत से हो रहा है।भारत ही एकमात्र ऐसा देश है जहां सबसे अधिक मात्रा में पॉलीथीन का उपयोग किया जाता ...
  • 2669
    53

    एक नजर देखा जो तुमने दिल के अरमां मचल गए मुरझा गए थे हंसी ख्वाब जो दिल के फूलों से खिलकर संवर गए फिर जिंदगी को ...
  • 4481
    25

    कुछ दिनों से सत्कार एक अजीब सी परेशानी महसूस कर रहे थे।काफी दिन हो चले थे पर उनका बुखार उतरने का नाम ही नहीं ले रहा ...
  • 5975
    85

    गर जीवन से तुम न घबराओ मन में आत्मविश्वास जगाओ मेहनत को अपना धर्म बनाओ जीवन की इस कठिन डगर पर साहस से अपने कदम बढ़ाओ ...